इतिहास को जानना क्यों जरूरी है || Royal Yatra




इतिहास को जानना क्यू जरूरी है 

हम कितना भी विकास कर ले किन्तु ज़ब बात आपकी विकास की होंगी तो उसकी जड़े हमारे इतिहास से ही मिलेंगी|
एक कहावत भी है की, जड़े जितनी गहरी होंगी वृक्ष उतना ही ऊंचा और मजबूत होगा. 
इसमें कोई संदेह नहीं की भारतीय संस्कृति, इतिहास और हमारी सनातन की उदय सृष्टि के संचालक के तुरंत बाद ही हो गई होंगी. 

वेद-पुराण, उपनिषद, महाभारत,, रामायण ये सारे जीवन मे उचतम विकास प्राप्ती का जरिया है और इन्ही के बदौलत भारतवर्ष हज़ारो राजाओ का देश होते हुए भी सोने की चिड़िया कहलाती थी , 

संपन्नता, संमृद्धि और खुशहाली के शिखर पर होने के कारण ही हज़ारो बाहरी आक्रमणकारीयों और लुटेरों की लूट का डंक झेलने के बाद भी कभी हिंदुस्तान इतिहास मे तफन नहीं हुआ, उसके विपरीत सामान्य रुप से विकास और इतिहास के पन्नों मे अपनी कृति दर्ज कराता गया. 

इतना गौरवशाली इतिहास होने के बावजूद आज भारत की गिनती भ्रष्ट, गरीब, गंदे, विकाशविहीन, सुस्त (अलसी) देशो मे किया जाता है. 
ज़ब इसका वजह पता करने निकलेंगे और दिमाग़ पर 10,000 हथौड़े जितना वजनी जोर लगाएंगे तो शायद सच्चाई आपको अज्ञान के आसमान मे एक धधकते सूरज की तरह दिख जाएगी, 

आप पाएंगे की हमारे बुजुर्गो का विकाश की वजह अपने पूर्वजों की बताई हुई राह पर चलने से हुई, उनके व्यक्तित्व को ओढने से हुई.... 
इतिहास मे शौर्य पुरषों और संपूर्ण इतिहास की जानकारी इकठ्ठा कर उसमेसे जीवन को बेहतर और विकाशील बनाने का सूत्र ढूंढा जाता था. 

किन्तु विडंबना की बात आज यह है की हम अपने इतिहास को कचरा समझ कही दूर फेक आये है.... 
अपने ऋषियों-मुनियों की अथक तपस्या और पुराण महापुरषो की ज्ञानमई और विकासशील वचनो को, उनके आदतों को, उनके व्यक्तित्व को हमने अपने जीवन से हज़ारो मिल दूर फेक चुके है, 
जिसे हमने भुला दिया उसे अपना सिरमौर बनाकर कई देश विकाश की नयी-नयी आयाम लिख रहे है.
.
.
अब बहुत जरुरी हो गया है की हम अपने इतिहास और ऐतिहास के बारे मे जाने और उन्हें पहचना उनके बताये हुए मार्ग पर चले.... 

कई मायने मे जरुरी अपने इतिहास को जानना -

सिर्फ वैश्विक स्तर पर सामान्य विकास के लिए ही इतिहास आपकी मदद नहीं करेगा अपितु, बहुत सारी चीजे है जिसमे आपका कल (बिता) आपके कवच का काम करेगा. 
छोटी सी उदाहरण से समझें स्वतंत्रता की लड़ाई मे हमारे वीर शहीद पूर्वक जैसे भगत सिंह, चंद्रशेखर, महेश्वर सिंह, मंगल पाण्डेय जैसे लोगों के बारे मे जानेंगे उनके व्यक्तित्व को पहचानेंगे तो हमें जिंदगी मे हार न मानने और अंतिम सांस के बाद भी लक्ष्य प्राप्ति का ख्याल रहेगा, 
कैसे दुश्मन को हराना है, चाहे प्राण की आहुति ही क्यू न देनी पड़े, 
  • ज़ब और पीछे जायेंगे तो धर्म का ज्ञान होगा और धर्म मोक्ष का मार्ग है इसका भी साक्षात् विवरण मिलेगा, 
  • थोड़ा और पीछे जायेंगे तो पता चलेगा मानवविकास की गती धीमी हो सकती है किन्तु रुक नहीं  सकती अर्थात जीवन निरन्तन चलने का नाम है ये भी आपको ज्ञात हो जायेगा, 
  •  ज़ब और इतिहास के तह मे जायेंगे तो सत्य, असत्य का ज्ञान होगा, पता चलेगा कैसे भगवान धरती पर अवतरित होते है और मानवरूप मे रहते हुए भी पतित पावनि सीता के लिए धर्मयुद्ध करते और नारी सम्मान की स्थापना करते है... 
अगर आप मे आग है तो इतिहास के अँधेरे पड़े गुफा मे और आगे बढ़े तब आपको पता चलेगा की आपकी इतिहास और पूर्वजों की ही देन है ज्ञान, योग, शास्त्रार्थ, वेद-पुराण, निर्माण दूसरे शब्द मे कहे तो सृष्टि की आरंभिक बिंदु ही आपके इतिहास मे और भी उसी का एक अंश है आप . 

किन्तु ज़ब इसे जानने मे आपकी रूचि ही नहीं रहेगी तो दूसरे इसे अपना बताएँगे और खुद को महान बताएँगे और सम्भव है की आपके इतिहास पुरुष के खिलाफ साजिसे भी करे और आप कुछ भी नहीं कर पाएंगे क्युकी आपको कुछ पता ही  नहीं है तो आप इसके बातों को काट ही नहीं पाएंगे..... 
समझें इसे -

जितनी तेजी से हम अपने इतिहास को भुला रहे उस हिसाब से आने वाले 70-80 बरष मे हमारे पीढ़ी कही ये न कह दे की भगत सिंह कौन थे अब ऐसे स्तिति मे कोई भगत सिंह को बड़ा ऐयास बता देगा और हम उसका विरोध ही नहीं कर पाएंगे क्युकी सच हमें पता नहीं है और ज़ब सच का पता नहीं होता तो जो दिखाया जायेगा जो बताया जायेगा उसे हम सच मान लेंगे...... 
भर जरुरी है अपने गौरवशाली इतिहास के बारे मे जानना और उसे दुनिया और लोगों तक पहुंचना... 
.
इसी सन्दर्भ मे ROYAL YATRA. COM ने एक जिम्मेदारी 
उठाई है अपने वीरान पड़ी महान विरासत को लोगों तक पहुंचना और आपको महान होने की अनुभूति करना..... 
उम्मीद है आप इस मुहीम हमारे साथ कदम-ताल करेंगे..   




जुड़े हमारे युटुब चैनल से -

हमारा फेसबुक  

-TEAM ROYAL YATRA!!!!



Post a comment

0 Comments

हाल की पोस्ट्स

परिचय

भारत में परिदृश्य, महान विरासत और संस्कृति, विभिन्न वनस्पतियों और जीवों का असंख्य घर है। यह देश दुनिया भर के पर्यटकों के लिए सबसे पसंदीदा पर्यटन स्थल है, हम अपने यात्रा के अनुभवों को इस वेबसाइट के माध्यम से साझा करते है |

सोशल मीडिया